Kangana Ranaut On The Kerala Story: सुदीप्तो सेन (Sudipto Sen) की फिल्म द केरला स्टोरी (The Kerala Story) बॉक्स ऑफिस पर छप्परफाड़ कमाई कर रही है. ये फिल्म 200 करोड़ क्लब में शामिल हो चुकी है. वहीं, रिलीज से पहले से ही ‘द केरला स्टोरी’ को लेकर विवाद जारी है. कुछ लोग इस फिल्म को सपोर्ट कर रहे हैं, तो कुछ लोगों का कहना है कि ये एक प्रोपेगेंडा है. अब इस मामले में कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने अपना रिएक्शन दिया है.

फिल्म पर बैन लगाना संविधान का अपमान

न्यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार कंगना रनौत ने कहा, ‘केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड द्वारा पास की गई फिल्म द केरला स्टोरी पर कुछ राज्यों में प्रतिबंध लगाया जाना संविधान का अपमान है. कंगना रनौत ने रिपोर्टर्स से कहा, ‘जिस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने पास कर दिया है, उस पर बैन लगाना संविधान का अपमान है. द केरला स्टोरी को कुछ राज्यों में बैन किया जाना बिल्कुल गलत है.’ 

बॉलीवुड इंडस्ट्री से लोगों को रहती है शिकायत

एक्ट्रेस ने बताया कि लोगों को बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री से शिकायत रहती है कि जिस तरह की फिल्में वे देखना चाहते हैं, वैसी फिल्में नहीं बनाई जाती हैं. कंगना रनौत ने कहा, ‘जब द केरला स्टोरी जैसी फिल्म बनती है, तो लोगों की शिकायत दूर हो जाती है. जिन फिल्मों को लोग देखना पसंद करते हैं, उससे फिल्म इंडस्ट्री को फायदा ही होता है.’

सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म पर लगे बैन पर लगाई रोक

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल सरकार ने समुदायों के बीच तनाव को देखते हुए 8 मई को फिल्म द केरला स्टोरी (The Kerala Story) पर बैन लगा दिया था. तमिलनाडु के सिनेमाघरों ने कानून-व्यवस्था की स्थिति और खराब दर्शकों की संख्या का हवाला देते हुए इसकी स्क्रीनिंग बंद करने का फैसला किया था. हालांकि, पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने राज्य में फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के पश्चिम बंगाल सरकार के आदेश पर रोक लगा दी और तमिलनाडु से फिल्म देखने वालों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा.

यह भी पढ़ें-‘तितली’ में जलवा दिखाने को तैयार Neha Solanki, जानें एक्ट्रेस की पढ़ाई के बारे में



Source link

Previous articleA Sneak Peek Into Sonakshi Sinha’s New House In Mumbai
Next articleClimate protesters indicted for smearing paint around case of Degas statue

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here